त्योहारों में दालें, सब्जियां और सरसों का तेल हुआ महंगा, जानें क्या है वजह


 Satyakam News | 14/10/2020 4:20 PM


नई दिल्ली। कोरोना संकट के बीच जरूरी सामानों की बढ़ती कीमत से त्योहारों का मजा फीका हो सकता है। हाल के दिनों में सब्जियां, दालें, खाद्य तेल आदि की कीमतें एकदम से बढ़ गई है। कारोबारियों का कहना है कि आने वाले दिनों में दुर्गापूजा को लेकर फलों की कीमत में भी बड़ा उछाल आने की आशंका है। 

कारोबारियों के अनुसार, अभी सब्जियों,  खाद्य तेल और दालों की कीमतें कम होने की फिलहाल कोई उम्मीद नहीं है। इसकी वजह अनलॉक-5 लागू होने के बाद एकदम से मांग और आपूर्ति के बीच बड़ा अंतर आना है। त्योहारी सीजन में मांग और बढ़ने से कीमत में और तेजी आने की पूरी संभावना है। 

हरी सब्जियों, आलू, प्याज, टमाटर, सरसों तेल के साथ दाल लगातार बढ़ रही कीमतों ने रसोई का बजट बिगाड़ दिया है। थोक बाजार में अरहल दाल की कीमत 115 रुपये किलो के पार पहुंच चुकी हैं। दिल्ली समेत कई बड़े शहरों में दालों की कीमतों में 15 से 20 रुपये तक बढ़ोतरी हुई है। पिछले महीने से अरहर की दाल में 20 फीसदी का उछाल आया है। अरहर के अलावा मूंग और उड़द दाल भी 10 फीसदी तक महंगी हो चुकी है।

मंडी में प्याज 25 रुपये से 40 रुपये, आलू 28 रुपये से 40 रुपये और टमाटर 35 रुपये से 40 रुपये के बीच उपलब्ध है। उन्होंने बताया कि हाल के दिनों में आलू, प्याज और टमाटर कीमत तेजी से बढ़ी और यह तेजी त्योहारी सीजन तक जारी रह सकती है। हालाकि, यहां से बहुत बड़ा उछाल आने की उम्मीद नहीं है क्योंकि अनलॉक-5 के साथ मंडियों में आपूर्ति बढ़ रही है। इससे कीमत पर लगाम लगाने में मदद मिलेगी। 

मंडी से खुदरा बाजार में आते-आते इनके दाम में दोगुना तक अंतर देखने को मिल रहा है। खुदरा में आलू अभी 40 से 50 रुपये प्रति किलो चल रहा है। वहीं, खास क्वालिटी के आलू का खुदरा भाव 60 रुपये तक भी है। प्याज की कीमत इस समय खुदरा में 60 रुपये किलो है। वहीं, टमाटर की बात की जाय तो 80 रुपए तक मिलने वाला टमाटर इस वक्त 50 से 60 रुपये मे मिल रहा है।

Follow Us