कोरोना नियम तोड़ सड़क पर उतरे आप पार्टी के नेता, वैक्सीन को लेकर केंद्र सरकार पर बोला हमला


 Satyakam News | 07/04/2021 9:42 PM


नई दिल्ली। केंद्र सरकार की वैक्सीन निर्यात नीति के विरोध में बुधवार को सड़क पर उतरे आम आदमी पार्टी (आप) कार्यकर्ताओं ने भी कोविड-19 नियमों में ढिलाई बरतते हुए प्रदर्शन किया। कोरोना की चौथी लहर के बावजूद भाजपा कार्यालय के पास प्रदर्शन के दौरान 'आप' कार्यकर्ता और समर्थक बिना मास्क पहने और सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन करते दिखे। हालांकि, पुलिस ने पहले ही यह कह दिया है कि उनका विरोध अवैध है क्योंकि कोविड नियंत्रण नियमों के तहत, दिल्ली में ऐसी सभाओं को आयोजित नहीं किया जा सकता है। 'आप' ने कहा कि केंद्र सरकार देश के लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाने की जगह विदेशों में वैक्सीन निर्यात कर रही है।

यह पूछे जाने पर कि जब राजधानी 5,100 से अधिक मामलों दर्ज किए जा रहे हैं, ऐसे में यदि सत्तारूढ़ दल ही मास्क के उपयोग पर जोर नहीं देगा तो इस महामारी को कैसे काबू किया जा सकता है? इसके जवाब में 'आप' के वरिष्ठ पार्टी नेता सौरभ भारद्वाज ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी चुनावी रैलियों की ओर इशारा किया।

सौरभ भारद्वाज ने कहा कि इस देश के लोग प्रधानमंत्री को फॉलो करते हैं। प्रधानमंत्री ने बिहार के लाखों लोगों के साथ रैलियां कीं। फिर हाल ही में असम और अन्य राज्यों में भी उन्होंने ऐसा ही किया। अगर वह सभी नियमों का पालन करते हैं, तो बाकी सभी लोग उनका अनुसरण करेंगे। महामारी के दौरान चुनावी रैलियों में भीड़ जुटाने को लेकर भाजपा की बहुत आलोचना की गई है।  

उन्होंने कहा कि जहां तक ​'आप' कार्यकर्ताओं का सवाल है, करोड़ों लोगों को वैक्सीन लगवाने के लिए भले ही 'आप' के कुछ कार्यकर्ताओं को कोरोना हो जाए, हम इसके लिए तैयार हैं। 

'आप' का मानना ​​है कि मौजूदा परिस्थितियों में दुनिया भर में कोविड-19 टीकों की 64.5 मिलियन खुराक भेजने के बजाय, भारत सरकार देशव्यापी टीकाकरण अभियान को तेज कर सकती है।

पार्टी के वरिष्ठ नेता राघव चड्ढा ने कहा कि सरकार ने नागरिकों को दी जाने वाली वैक्सीन का अधिक निर्यात किया। उन्होंने कहा कि वैश्विक स्तर पर अपनी छवि को बेहतर बनाने के लिए पीएम मोदी ने ऐसा निर्णय लिया और 84 देशों को 64.5 मिलियन वैक्सीन डोज का निर्यात किया। सरकार लोगों की जान बचाने की तुलना में अपनी छवि के बारे में अधिक चिंतित है। 

Follow Us