हैदराबाद के इस तेज गेंदबाज को सौरव गांगुली ने क्यों किया सलाम


 Satyakam News | 21/11/2020 11:39 PM


नई दिल्ली। दो महीने से ज्यादा लंबे ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए टीम में शामिल हुए तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज के पिता का शुक्रवार को निधन हो गया था। सिराज के पिता मोहम्मद गौस 53 बरस के थे और फेफड़ों की बीमारी से जूझ रहे थे। सिराज को क्रिकेटर बनाने के लिए उनके पिता ने अपने जीवन में कई त्याग किए और कड़ी मेहनत करके सिराज को इस मुकाम तक पहुंचाया। बीसीसीआई सचिव जय शाह ने बताया है कि सिराज को पिता के निधन के बाद शोक में डूबे परिवार के साथ होने के लिए भारत लौटने का ऑप्शन दिया गया था लेकिन उन्होंने 'नेशनल ड्यूटी' के कारण ऑस्ट्रेलिया में रुके रहने का फैसला किया। उनके इस फैसले पर सौरव गांगुली ने उनकी जमकर तारीफ की है।

बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने त्रासदी की इस घड़ी में जीवटता और मजबूत मानसिकता दिखाने के लिए हैदराबाद के इस तेज गेंदबाज की जमकर सराहना की। उन्होंने कहा कि इस तेज गेंदबाज ने भारतीय टीम के साथ बने रहने और अपने राष्ट्रीय कर्तव्यों को निभाने का फैसला किया है। बीसीसीआई उनके दुख को साझा करता है और इस बेहद चुनौतीपूर्ण समय में सिराज का समर्थन करेगा। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि मोहम्मद सिराज को इस परिस्थिति का सामना करने के लिए मजबूती मिले। मैं इस दौरे पर उनकी सफलता के लिए शुभकामनाएं देता हूं। जबरदस्त जीवटता।

बता दें कि एक क्रिकेटर के रूप में सिराज की सफलता में उनके ऑटो चालक पिता की अहम भूमिका रही, जिन्होंने सीमित संसाधनों के बावजूद उन्होंने अपने बेटे की महत्वाकांक्षाओं का समर्थन किया। सिराज रणजी ट्रॉफी में हैदराबाद के लिए 41 विकेट चटकाकर सुर्खियों में आए थे। इसके बाद इंडियन प्रीमियर लीग की टीम सनराइजर्स हैदराबाद ने इस अनकैप्ड खिलाड़ी खिलाड़ी को 2.6 करोड़ की बोली के साथ टीम में शामिल किया था। वह फिलहाल रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर टीम के सदस्य हैं। सिराज ऑस्ट्रेलिया दौरे पर गई भारतीय दल में टेस्ट टीम के सदस्य है। भारतीय टीम 13 नवंबर को ऑस्ट्रेलिया पहुंचने के बाद अभी 14 दिन के क्वारंटाइन पीरियड से गुजर रही है।

Follow Us