दिल्ली में केजरीवाल के आदेश के बाद भी मास्क न पहनने पर काटे जा रहे है सिर्फ 500 रुपये के चालान, जानें क्यों?


 Satyakam News | 20/11/2020 8:38 PM


नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा बिना मास्क लगाए सार्वजनिक स्थानों पर घूमने वाले लोगों पर 2000 रुपये जुर्माना लगाने के आदेश के बावजूद अब भी सिर्फ 500 रुपये के ही चालान काटे जा रहे हैं। राजधानी में दिन-प्रतिदिन भयावह होते कोरोना संक्रमण के मामलों के बीच केजरीवाल सरकार ने सार्वजनिक स्थानों पर मास्क नहीं पहनने वालों पर सख्ती बरतते हुए अब बिना मास्क लगाए पकड़े जाने पर जुर्माना राशि को चार गुना बढ़ाकर 500 रुपये से 2000 रुपये कर दिया है।

इस बीच, दिल्ली-नोएडा बॉर्डर पर तैनात प्रवर्तन अधिकारी अजय प्रकाश ने शुक्रवार को बताया कि हमने सुबह से यहां करीब 15 चालान काटे हैं जिसमें दो सोशल डिस्टेंसिंग का पालन न करने के लिए और बाकी मास्क नहीं लगाने के लिए काटे गए हैं। अभी हम केवल 500 रुपये का ही चालान काट रहें क्योंकि हमारे पास अभी 2000 रुपये का चालान काटने के दिशानिर्देश नहीं आए हैं।

बता दें कि, जुर्माने की रकम बढ़ाने को लेकर दिल्ली सरकार की ओर से नोटिफिकेशन जारी नहीं किया गया है, जिसके चलते अभी 500 रुपये के ही चालान काटे जा रहे हैं। 

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार को कोरोना की स्थिति से निपटने के लिए बुलाई गई सर्वदलीय बैठक के बाद जुर्माने की रकम बढ़ाने का ऐलान किया था। केजरीवाल ने कहा था कि अभी तक मास्क नहीं पहने पर पकड़े जाने पर 500 रुपये का जुर्माना लगता था, लेकिन कई लोग अब भी बिना मास्क घूम रहे हैं, ऐसे लोगों पर कड़ी कार्रवाई के लिए जुर्माने की राशि को बढ़ाकर दो हजार रुपये किया गया है।

गौरतलब है कि कोरोना की भयावह स्थिति को देखते हुए दिल्ली सरकार ने वैवाहिक आयोजनों में शिरकत वालों की संख्या 50 तक सीमित कर दी है। पहले इसे बढ़ाकर 200 कर दिया गया था।

दिल्ली में गुरुवार को कोविड-19 के 7546 नए मामले आने से संक्रमितों की संख्या 5.1 लाख से अधिक हो गई, जबकि 98 और मरीजों की मौत हो जाने से मृतकों की संख्या 8041 हो गई।

दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी हेल्थ बुलेटिन के मुताबिक पिछले दिन आरटी-पीसीआर से 22,067 जांच समेत कुल 62,437 जांच की गई। बुलेटिन में कहा गया कि शहर में त्योहार के मौसम और बढ़ते प्रदूषण के बीच संक्रमण दर 12.09 प्रतिशत है। दिल्ली में 11 नवंबर को संक्रमण के सबसे ज्यादा 8593 मामले आए थे और 85 मरीजों की मौत हो गई थी।

शहर में संक्रमण से 98 और लोगों की मौत हो जाने से मृतकों की संख्या 8,000 से ज्यादा हो गई। वर्तमान में 43,221 मरीजों का इलाज चल रहा है। हेल्थ बुलेटिन में कहा गया कि संक्रमितों की कुल संख्या 5,10,630 हो गई है।

Follow Us