हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने सबसे पहले अंबाला में लगवाया टीका


 Satyakam News | 20/11/2020 7:51 PM


अंबाला। कोरोना महामारी से बचाव के लिए भारत बायोटेक द्वारा निर्मित टीके कोवैक्सीन के तीसरे चरण का ट्रायल शुक्रवार से हरियाणा में भी शुरू हो गया है। ट्रायल के तहत सबसे पहले अंबाला में हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज को टीका लगा गया। विज ने बुधवार को ट्वीट कर स्वेच्छा से सबसे पहले कोवैक्सीन टीका लगवाने के लिए वॉलंटियर बनने की पेशकश की थी। 

भाजपा के 67 वर्षीय वरिष्ठ नेता अनिल विज को अंबाला छावनी के सिविल अस्पताल में ट्रायल के तौर पर कोवैक्सीन का टीका लगाया गया। यह टीका स्वदेशी तौर पर विकसित किया जा रहा है।

विज ने गुरुवार को ट्वीट किया, “पीजीआई रोहतक के डॉक्टरों और स्वास्थ्य विभाग के दल की निगरानी में मुझे शुक्रवार सुबह 11 बजे अंबाला छावनी के सिविल अस्पताल में कोरोना वायरस के टीके कोवैक्सीन का ट्रायल टीका लगाया जाएगा, जो भारत बायोटेक का उत्पाद है।”

उन्होंने कहा कि वह ट्रायल के तौर पर टीका लगाने के लिए स्वेच्छा से आगे आए हैं। विज अंबाला छावनी से विधायक हैं। उन्होंने बुधवार को कहा था कि हरियाणा में 20 नवंबर से कोवैक्सीन के तीसरे चरण का ट्रायल होगा। उन्होंने कहा कि वह ट्रायल के तहत सबसे पहले टीका लगाने के लिए तैयार हैं। 

बता दें कि, कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के बची पूरी दुनिया को कोविड-19 के टीके का इंतजार है। वैक्सीन बनाने की दौड़ में भारत भी शामिल है। भारत की अपनी कोरोना वैक्सीन कोवैक्सीन  पर लोगों की उम्मीदें टिकी हुई हैं। इस वैक्सीन को भारत बायोटेक और भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद मिलकर तैयार कर रहे हैं। फिलहाल इस वैक्सीन का ट्रायल चल रहा है। भारत बायोटेक की वैक्सीन कोवैक्सीन को लेकर कहा जा रहा है कि अगर सब कुछ सही रहा तो उम्मीद है कि टीका फरवरी में आ सकता है। हालांकि, भारत बायोटेक की ओर से वैक्सीन को लेकर कुछ भी नहीं कहा गया है।

Follow Us